गुरुदेव्

Gurudeva (in Hindi)

गुरुदेव्!

कृपाबिंदु दिया, कोरॊ ऎइ दासॆ,
तृणापेखा अति हीन
सकल सहने, बल दिया कोरॊ,
निज-माने स्पृहा-हीन

सकलॆ सम्मान, कोरितॆ शकति,
देहो नाथ! जथाजथ
तबॆ तो गाइबो, हरि-नाम-सुखे,
अपराध हबॆ हत

कबॆ हेनॊ कृपा, लभिया ऎ जन,
कृतार्थ होइबे, नाथ
शक्ति-बुद्धि-हीन, आमि अति दीन,
कोरॊ मोरॆ आत्म-साथ

जोग्यता-विचारॆ, किछु ना हि पाइ,
तोमार करुणा-सार
करुणा ना होइले, कांदिया कांदिया
प्राण ना राखिबॊ आर

ध्वनि

  1. श्री अमलात्म दास तथा भक्त वृन्द- इस्कॉन बैंगलोर