श्री रूप मंजरी पद

Śrī Rūpa Mañjarī Pada (in Hindi)

श्री-रूप-मंजरी-पद, सेइ मोर संपद,
सेइ मोर् भजन-पूजन
सेइ मोर प्राण-धन, सेइ मोर आभरण
सेइ मोर् जीवनेर जीवन

सेइ मोर रस-निधि, सेइ मोर वांछा-सिद्धि,
सेइ मोर् वेदेर धरम
सेइ व्रत, सेइ तप, सेइ मोर मंत्र-जप,
सेइ मोर् धरम-करम

अनुकूल हबे विधि, से-पदे होइबे सिद्धि,
निरखिबो ए दुइ नयने
से रूप-माधुरी-राशि, प्राण-कुवलय-शशी
प्रफुल्लित हबे निशि-दिने

तवा आदर्शन-अहि, गरले जारलो देहि,
चिरो-दिन तापित जीवन
हा हा रूप कोरो दोया, देहो मोरे पद-छाया,
नरोत्तम लोइलो शरण

ध्वनि

  1. श्री अमलात्म दास तथा भक्त वृन्द- इस्कॉन बैंगलोर