सखी-वृंदे विज्ञप्ति

Sakhī-vṛnde Vijñapti (in Hindi)

राधा-कृष्ण प्राण मोर जुगल-किशोर
जीवने मरणे गति आरो नाहि मोर

कालिंदीर कूले केलि-कदंबेर वन
रतन-बॆदीर उपर बॊसाबॊ दु’ जन

श्याम-गौरी-अंगे दिबो (चूवा) चंदनेर गंध
चामर ढुलाबो कबे हॆरि मुख-चंद्र

गाथिया मालतीर् माला दिबॊ दोहार गले
अधरे तुलिया दिबो कर्पूर-तांबूले

ललिता विशाख-आदि जत सखी-वृंद
आज्ञाय कॊरिबॊ सेबा चरणारविंद

श्री-कृष्ण-चैतन्य-प्रभुर् दासेर् अनुदास्
सेवा अभिलाष कोरॆ नरोत्तम दास

ध्वनि

  1. श्री स्तोक कृष्ण दास तथा भक्त वृन्द- इस्कॉन बैंगलोर