सावरण-श्री-गौर-महिमा

Sāvaraṇa-śrī-gaura-mahimā (in Hindi)

गौरांगेर दुटि पद, जार् धन संपद,
से जाने भकतिरससार्
गौरांगेर मधुरलीला, जार् कर्णे प्रवेशिला
हृदॊय निर्मल भेलो तार्

जे गौरांगेर नाम लॊय्, तार हॊय्
प्रेमोदॊय्
तारे मुइ जाइ बोलिहारि
गौरांगगुणेतॆ झुरे, नित्यलीला तारे स्फुरे,
से जन भकति-अधिकारी

गौरांगेर संगिगणे, नित्यसिद्ध कॊरि’ माने,
से जाय् ब्रजेंद्र सुतपाश्
श्री गौडमंडलभूमि, जेबा जाने चिंतामणि,
तार हॊय् ब्रजभूमे बास्

गौरप्रेम रसार्णवे, से तरंगे जेबा डुबे,
से राधामाधव-अंतरंग
गृहे बा वनेते थाके, ‘हा गौरांग’ बो’ले डाके’
नरोत्तम मागे तार संग

ध्वनि

  1. श्री अमलात्म दास तथा भक्त वृन्द- इस्कॉन बैंगलोर