भोग-आरति

Bhoga-ārati (in Hindi) भज भकत-वत्सल श्री-गौरहरि श्री-गौरहरि सोहि गोष्ठ-विहारी, नंद-जशोमती-चित्त-हारी बेला हो ‘ लो, दामोदर, आइस एखानो भोग-मंदिरे बोसि’ कोरहो भोजन नंदेर निदेशे बैसे गिरि-वर-धारी बलदेव-सह सखा बैसे सारि सारि शुक्ता-शाकादि भाजि नालिता कुष्माण्ड डालि डाल्ना दुग्ध-तुंबी दधि मोचा-खंड मुद्ग-बोडा माष-बोडा रोटिका घृतान्न शष्कुली पिष्टक खीर् पुलि पायसान्न कर्पूर अमृत-केलि रंभा खीर-सार अमृत रसाला, आम्ल […]